Thursday, February 29, 2024
ई पेपर
Thursday, February 29, 2024
Home » गुरदासपुर को तोहफाः मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और सीएम भगवंत सिंह मान ने 1854 करोड़ रुपए के विकास प्रोजेक्ट लोगों को किए समर्पित

गुरदासपुर को तोहफाः मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और सीएम भगवंत सिंह मान ने 1854 करोड़ रुपए के विकास प्रोजेक्ट लोगों को किए समर्पित

गुरदासपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज)-सरहदी जिलों गुरदासपुर और पठानकोट के निवासियों को बड़ा तोहफ़ा देते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने राज्य में ‘विकास क्रांति’ के नये युग की शुरुआत करने की मुहिम जारी रखते हुये आज 1854 करोड़ रुपए की लागत वाले अलग-अलग विकास प्रोजैक्ट लोगों को समर्पित किये और कई प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखे। इस दौरान दोनों मुख्यमंत्रियों ने सरहदी जिलों के लिए नये प्रोजेक्टों का ऐलान भी किया।

दोनों मुख्यमंत्री ने लोगों को 402 करोड़ रुपए की लागत के साथ गुरदासपुर सहकारी चीनी मिल में को- जनरेशन प्लांट के साथ नयी चीनी मिल और 296 करोड़ रुपए की लागत के साथ बटाला सहकारी चीनी मिल में को- जनरेशन के साथ नयी चीनी मिल का तोहफ़ा दिया। यह गौरवमयी प्रोजैक्ट जनवरी, 2024 को कार्यशील होंगे जो गन्ना उत्पादकों के लिए वरदान साबित होंगे। उन्होंने वडाला ग्रंथियों में 360.83 करोड़ रुपए की लागत के साथ बनने वाले 400 के. वी. पावर प्रोजैक्ट और पी. एस. पी. सी. एल. की आर. डी. एस. एस. स्कीम के अंतर्गत गुरदासपुर में 129. 54 करोड़ रुपए और पठानकोट में 93. 24 करोड़ रुपए के प्रोजैक्ट की शुरुआत की।

इसी तरह दोनों मुख्यमंत्रियों ने पठानकोट निवासियों को 53.30 करोड़ रुपए की लागत के साथ सेहत संभाल बुनियादी ढांचे जैसे कि ओ. पी. डी., लैबज़ ओ. टी., कार पार्किंग के नवीनीकरण का तोहफ़ा दिया। उन्होंने बटाला निवासियों को 52. 81 करोड़ रुपए की लागत के साथ 220 के. वी. एस/ एस बुटारी और 400 के. वी. एस/ एस वडाला ग्रंथियों के बीच 220 के. वी. डी/ सी लिंक और 50 करोड़ रुपए की लागत वाला सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की भी सौग़ात दी। इसी तरह भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने बटाला सहकारी चीनी मिल में 40 करोड़ रुपए की लागत के साथ बी. ओ. टी. आधार पर स्थापित किया जा रहा 100 टी. पी. टी. क्षमता वाला नया बायो सी. एन. जी. प्रोजेक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया, जो इस महीने तक चालू हो जायेगा।
दोनों मुख्यमंत्रियों ने गुरदासपुर के निवासियों को 220 के. वी. नवां पिंड ( 66 केवी एस/ एस के परिसर में नया ग्रिड), 220 के. वी. गुरदासपुर समेत एस. ए. एस. और नयी 66 के. वी. लाइनें और 66 के. वी. लाइनें ( गुरदासपुर और पठानकोट) के विस्तार की भी शुरुआत की जिसकी लागत क्रमवार 39.74 करोड़ रुपए, 33. 44 करोड़ रुपए और 30 करोड़ रुपए है। उन्होंने सुजानपुर के निवासियों को 28. 55 करोड़ रुपए की लागत के साथ शाहपुर कंडी हाइडल प्रोजैक्ट के निकासी व्यवस्था का प्रोजैक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने कलानौर में 22 करोड़ रुपए की लागत के साथ बनने वाले एग्रीकल्चर कालेज का नींव पत्थर भी रखा। 100 एकड़ से अधिक क्षेत्रफल में बनने वाला यह कालेज कलानौर के लिए वरदान साबित होगा और कृषि विकास के लिए एक विशेष खोज केंद्र के तौर पर उभरेगा। दोनों मुख्यमंत्रियों ने ट्रैफ़िक की बड़ी समस्या से निपटने के लिए 21 करोड़ रुपए की लागत के साथ बनाऐ गए अंडर रेलवे ब्रिज, तिबड़ी रोड का भी उद्घाटन किया। उन्होंने गुरदासपुर में 14.92 करोड़ रुपए की लागत के साथ छह एकड़ ज़मीन में बनाए गए बाबा बन्दा सिंह बहादुर अंतरराज्यीय बस टर्मिनल को भी समर्पित किया।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने लोगों की सुविधा के लिए 11.06 करोड़ रुपए की लागत के साथ नये सब-डिवीज़न/ तहसील कंपलैक्स बटाला की इमारत के निर्माण का प्रोजैक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया। उन्होंने 10.73 करोड़ रुपए की लागत के साथ गाँव घोनेवाल से मन्सूर तक लिंक सड़क को अप्पग्रेड करने और डेरा बाबा नानक में इस सड़क पर बनने वाले पुल का नींव पत्थर भी रखा। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने घणीए कर बाँगड़ में 10.15 करोड़ रुपए की लागत के साथ बने 50 मीट्रिक टन पशु ख़ुराक प्लांट का बाई-पास प्रोटीन प्लांट भी समर्पित किया।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने 9. 41 करोड़ रुपए की लागत के साथ सुजानपुर टाऊन में सड़क नैटवर्क के प्रोजैक्ट की भी शुरुआत की। उन्होंने 8.41 करोड़ रुपए की लागत के साथ दीनानगर में रावी दरिया से पार दूर- दूराज क्षेत्र के मकौड़ा पत्तन से सात गाँवों तक लिंक सड़क को अप्पग्रेड करने का प्रोजैक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने सुजानपुर में 8 करोड़ रुपए की लागत के साथ ओ. पी. जी. डब्ल्यू. लिंक के पावर प्रोजैक्ट की भी सौग़ात दी।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने नरोट जैमल सिंह टाऊन में 7. 06 करोड़ रुपए की लागत के साथ सिवरेज नैटवर्किंग समेत सड़कों की खुदवाई और पुनर- निर्माण का प्रोजैक्ट भी तोहफ़े में दिया। उन्होंने कलानौर में 6. 61 करोड़ रुपए की लागत के साथ नये सब डिवीज़न/ तहसील कंपलैक्स की इमारत बनाने के लिए एक प्रोजैक्ट का तोहफ़ा भी दिया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने 6. 60 करोड़ रुपए की लागत के साथ नया सब- डिवीज़न/ तहसील कंपलैक्स दीनानगर को समर्पित किया।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने सुजानपुर कस्बे में 5. 86 करोड़ रुपए की लागत के साथ जल स्पलाई सिस्टम के विस्तार और पुनर्वास के प्रोजैक्ट की भी सौग़ात दी। उन्होंने क्रमवार 5. 16 करोड़ और 5. 12 करोड़ रुपए की लागत वाला 66 के. वी. ग्रिड कोट धन्दल और गुरदासपुर के चक्क अराईयां में 66 के. वी. सब- स्टेशन भी लोगों को समर्पित किया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने नरोट जैमल सिंह में 4. 60 करोड़ रुपए की लागत के साथ जल स्पलाई सिस्टम के विस्तार और वृद्धि के लिए एक प्रोजैक्ट भी तोहफ़े में दिया।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने औद्योगिक विकास केंद्र, पठानकोट में 3. 13 करोड़ रुपए की लागत के साथ औद्योगिक क्षेत्र के गंदे पानी को संशोधित करने के लिए एक एम. एल. डी. का एस. टी. पी. स्थापित करने के प्रोजैक्ट की शुरुआत की। उन्होंने पठानकोट में 2. 65 करोड़ रुपए ख़र्च कर जल स्पलाई सिस्टम के विस्तार के लिए प्रोजैक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने दोरांगला, ( सब डिविज़न दीनानगर) में 2. 36 करोड़ रुपए की लागत के साथ बनी नयी सब- तहसील इमारत का उद्घाटन भी किया।

दोनों मुख्यमंत्रियों ने मैडीकल एमरजैंसी की स्थिति में लोगों को सेहत सहूलतें प्रदान करने के लिए 2. 25 करोड़ रुपए की लागत के साथ बने सी. एच. सी. कलानौर में एमरजैंसी वार्ड को भी समर्पित किया। लोगों को पीने वाले पानी की निरंतर स्पलाई देने के लिए उन्होंने क्रमवार 1. 82 करोड़, 0. 77 करोड़ और 0. 75 करोड़ रुपए की लागत के साथ जल स्पलाई स्कीम अवांखा, जल स्पलाई स्कीम ख्याला और जल स्पलाई स्कीम बाबरी का उद्घाटन भी किया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने पठानकोट में 1. 15 करोड़ रुपए की लागत के साथ पुरानी कंट्रोल रूम बिलडिंग को बदल कर नयी कंट्रोल रूम बिलडिंग के निर्माण का प्रोजैक्ट का भी तोहफ़ा दिया। दोनों मुख्यमंत्रियों ने 0. 77 करोड़ रुपए की लागत के साथ सहूर कलाँ जल स्पलाई योजना का प्रोजैक्ट भी तोहफ़े के तौर पर दिया, जो इस महीने के अंत तक चालू हो जायेगा। उन्होंने गुरदासपुर में 0. 74 करोड़ रुपए की लागत के साथ नये बने फूड एंड ड्रग ऐडमनिस्ट्रेशन ज़ोनल दफ़्तर का उद्घाटन भी किया। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने 66 के. वी. सब स्टेशन रंगड़-नंगल में 0. 70 करोड़ की लागत के साथ 6.3 एम. वी. ए. से 12. 5 एम. वी. ए. तक पावर ट्रांसफार्मर का सामर्थ्य बढ़ाने का प्रोजैक्ट भी दिया। दोनों मुख्यमंत्रियों ने बकनौर और घरोटा कलाँ में 0. 63 करोड़ और 0. 25 करोड़ रुपए की लागत के साथ जल स्पलाई स्कीमों का भी उद्घाटन किया। उन्होंने 0. 39 करोड़ रुपए की लागत के साथ केशोपुर शंभ के नवीनीकरण के लिए विशेष प्रोजैक्ट का नींव पत्थर भी रखा। भगवंत सिंह मान और अरविन्द केजरीवाल ने सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल बहरामपुर में चार नये बने क्लास रूमों, सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल बरिआर में चार नये क्लास रूम, सरकारी हाई स्कूल कालावाला में तीन नये बने क्लास रूमों, सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल धुप्पसड़ी में दो नये बने क्लास रूमों और सरकारी प्राइमरी स्कूल बगौल काहनूवान- 2 में दो नये कमरों का उद्घाटन भी किया जो क्रमवार 0. 30 करोड़ रुपए, 0. 30 करोड़ रुपए, 0. 23 करोड़ रुपए, 0. 15 करोड़ रुपए और 0. 15 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। उन्होंने पठानकोट में 0. 21 करोड़ रुपए की लागत के साथ 132 के. वी. सब स्टेशन को अपग्रेड करने का प्रोजैक्ट भी लोगों को तोहफ़े के तौर पर दिया।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd