Thursday, February 29, 2024
ई पेपर
Thursday, February 29, 2024
Home » कुरुक्षेत्र आदर्श थाने के आईओ को निलंबित करने के निर्देश

कुरुक्षेत्र आदर्श थाने के आईओ को निलंबित करने के निर्देश

चंडीगढ़/चन्द्र शेखर धरणी- हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कुरुक्षेत्र एसपी को कुरुक्षेत्र में बाइक व नकदी छीनने के मामले में केस दर्ज नहीं करने वाले कुरुक्षेत्र आदर्श थाने के आईओ (जांच अधिकारी) को निलंबित करने के निर्देश दिए हैं। विज आज अंबाला में अपने आवास पर प्रदेश के कई जिलों से आए सैकड़ों लोगों की समस्याओं को सुन रहे थे। कुरुक्षेत्र के गांव बारवा से आए शिकायतकर्ता ने गृह मंत्री अनिल विज को शिकायत देते हुए बताया कि कुछ माह पूर्व वह कुरुक्षेत्र के एलएनजेपी अस्पताल में इलाज कराने गया था, मगर वहां पर तीन लोगों ने उसके साथ मारपीट करते हुए उससे नकदी और उसकी बाइक छीन ली। वह दो आरोपियों को पहचानता भी है और घटना के दिन ही उसने आदर्श थाने में शिकायत दी थी। उसकी शिकायत एक आईओ के पास थी और आईओ उसे केस दर्ज करने का केवल झांसा देता रहा और मामले में आज तक पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया। गृह मंत्री अनिल विज ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कुरुक्षेत्र के एसपी को फोन कर संबंधित आईओ को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने तथा केस दर्ज कर छानबीन के निर्देश दिए।

फौजियों को कार्रवाई के लिए बार्डर से यहां आना पड़े, यह ठीक नहीं- गृह मंत्री अनिल विज को पलवल से आए सैनिक ने बताया कि उनकी जमीन पर कब्जे के मामले में पुलिस ने अब तक कार्रवाई नहीं की है और उसे मजबूरी में बार-बार बार्डर पर अपनी ड्यूटी छोड़ पलवल पुलिस के पास कार्रवाई के लिए आना पड़ रहा है। गृह मंत्री फौजी से बोले कि “यहां अनिल विज बैठा है तुम्हारी लड़ाई लडऩे के लिए, तुम्हे चिंता करने की जरूरत नहीं”, इसके बाद उन्होंने पलवल के एसपी को फोन मिलाते हुए कहा कि “फौजियों को कार्रवाई कराने के लिए बार्डर पर अपनी ड्यूटी छोड़ यहां आना पड़े, यह ठीक नहीं है, आप इस मामले में पुलिस की मौजूदगी में जमीन की पैमाइश कराते हुए फौजी को इंसाफ दिलाएं”।

हिसार के एसपी को एसआईटी गठित कर जांच के निर्देश – गृह मंत्री अनिल विज को हिसार से आए फरियादी ने जेसीबी बेचने के मामले में ठगी करने की शिकायत दी जिस पर उन्होंने हिसार के एसपी को एसआईटी गठित करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार अन्य कई मामलों में भी कड़ा संज्ञान लिया गया है। 

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd