Thursday, February 29, 2024
ई पेपर
Thursday, February 29, 2024
Home » *नाइट मार्कीट का प्रोजैक्ट सीएम का सबसे बड़ा फेलियर : त्रिलोचन सिंह

*नाइट मार्कीट का प्रोजैक्ट सीएम का सबसे बड़ा फेलियर : त्रिलोचन सिंह

करनाल, (डा. हरीश चावला) – करनाल के कांग्रेस नेताओं ने शनिवार को शहर का भ्रमण कर स्मार्ट सिटी के नाम पर की गई लूट और जनता को दिए गए धोखे की पोल खोली। कांग्रेस के जिला संयोजक त्रिलोचन सिंह की अगुवाई में कांग्रेस नेता सैक्टर-12 से बस में सवार होकर निकले। सबसे पहले जिला सचिवालय में पहुंचे कांग्रेस नेताओं ने दिखाया कि किस प्रकार यहां गंदगी का आलम है। यहां स्थापित ई-दिशा केंद्र में हुई 25 लाख रुपए की चोरी का पुलिस प्रशासन आज तक खुलासा नहीं कर सका। इस मौके पर त्रिलोचन सिंह ने कहा कि हुडा पार्किंग में बनाई गई नाइट मार्कीट का प्रोजैक्ट सीएम का सबसे बड़ा फेलियर रहा।

जिन लोगों ने इस मार्कीट में काम शुरू किया था उन्हें लाखों का नुकसान हुआ। त्रिलोचन सिंह ने कहा कि वह पिछले चार सालों से पत्राचार और फोन पर सीएम से मांग कर रहे थे कि वह उनके साथ अपने विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर विकास का सच सबके सामने आ जाएगा। सीएम ने कोई सुनवाई नहीं की, इसलिए अब कांग्रेस नेताओं के दल के साथ वह स्मार्ट सिटी का सच उजागर करने के लिए भ्रमण पर निकले। कांगे्रस नेताओं ने राजकीय महाविद्यालय सेक्टर 14 के नजदीक नेत्रहीनों के लिए बनाई गई विशेष सडक़ का दौरा किया। त्रिलोचन सिंह ने कहा कि इस प्रोजैक्ट पर 6.5 करोड़ रुपए खर्च किए गए और यहां भी पैसे की बर्बादी हुई। नेत्रहीनों को कोई लाभ नहीं मिला। इसके बाद कांग्रेस नेताओं का दल मुगल कैनाल पहुंचा।

रणबीर हुड्डा पार्क की व्यवस्था देख पुरजोर गुस्सा जाहिर किया गया। पार्क में कई-कई फुट घास खड़ी थी। शौचालय की हालत बदत्तर थी। त्रिलोचन सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार ने स्वतंत्रता सेनानी रणबीर हुड्डा का अपमान करने का काम किया है। मुगल कैनाल के सभी पार्कों का यही हाल है। झूले टूटे पड़े हैं, फव्वारे बंद पड़े हैं। आर्थिक तौर पर मुगल कैनाल के दुकानदारों को भारी नुकसान हुआ है। इस अवसर पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष अशोक खुराना, महिला प्रधान उषा तुली, वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री रानी कांबोज, प्रवक्ता ललित अरोड़ा, वरिष्ठ नेत्री गुरविंद्र कौर, डा. गीता, सतपाल सरपंच जाणी, अंशुल लाठर, जागीर सैनी, सुरजीत सैनी, अनिल शर्मा, सुषमा नागपाल आदि मौजूद रहे।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd