Monday, February 26, 2024
ई पेपर
Monday, February 26, 2024
Home » जहरीली शराब मामला- यमुनानगर में चौथे दिन तीन और लोगों की मौत, 18 पर पहुंचा मृतकों का आंकड़ा

जहरीली शराब मामला- यमुनानगर में चौथे दिन तीन और लोगों की मौत, 18 पर पहुंचा मृतकों का आंकड़ा

यमुनानगर, (मेहता)- जहरीली शराब से यमुनानगर में मृतकों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। बताया जा रहा है कि शराब पीने से चौथे दिन तीन और लोगों की मौत हुई है। वहीं, सारन गांव के लोगों ने बताया कि गांव में पांच से छह लोग लंबे समय से अवैध रूप से शराब बेच रहे हैं। यमुनानगर में जहरीली शराब पीने से चौथे दिन तीन लोगों की मौत हो गई। इसी के साथ ही जिले में शराब पीकर मरने वाले लोगों का आंकड़ा 18 पर पहुंच गया है। आज सारन गांव में 70 साल के अजमेर व 45 साल के पम्मी की मौत हो गई। जबकि पंजेटो का माजरा गांव में 32 वर्षीय अरूण उर्फ विक्की की भी मौत हुई है। तीनों के शवों को पुलिस ने कब्जे में लेकर कार्रवाई आरंभ कर दी है।

वहीं गांवों में मौत के सिलसिले को खत्म करने के लिए पुलिस द्वारा घरों की तलाशी ली जा रही है। यह देखा जा रहा है कि कहीं लोगों ने घरों में अवैध शराब खरीद कर छिपाई तो नहीं गई है। इतनी मौत होने के बाद भी लोग चोरी छिपे शराब पी रहे हैं। यही वजह है कि बुधवार से शुरू हुई लोगों की मौत अभी तक हो रही है। वहीं बहुजन समाज पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नरेश सारन ने बताया कि उनके गांव में जहरीली शराब से तीन लोगों की मौत हो चुकी है। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता सतपाल कोशिका का कहना है कि यह सरकार की लापरवाही है। सरकार मृतकों के परिजनों को मुआवजा और उनके एक सदस्य को नौकरी दे। वहीं हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर का कहना है कि मृतक के परिजनों को हर संभव मदद की जाएगी। उन्होंने कहा कि दोषियों को बच्चा नहीं जाएगा फिलहाल इस मामले में सात लोग गिरफ्तार किया जा चुके हैं कहीं और लोगों के नाम है उनकी भी तलाश की जा रही है।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd