Saturday, April 13, 2024
ई पेपर
Saturday, April 13, 2024
Home » चश्मदीद ने बताई मूसेवाला को गोलियां लगने से अस्पताल पहुंचाने तक की पूरी कहानी

चश्मदीद ने बताई मूसेवाला को गोलियां लगने से अस्पताल पहुंचाने तक की पूरी कहानी

मानसा (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद पूरे पंजाबभर में गम का माहौल है, हर किसी की जुबान पर एक ही नाम है सिद्धू मुसेवाला। जो दुनिया को अलविदा कह गए है। कल शाम मूसेवाला की एसयूवी पर गोलियों की बौछारे की गई।

मूसेवाला की जिस मौका-ए-वारदात पर हत्या हुई, वहां घरों की दीवारों पर बुलेट के निशान हैं। वहां नजदीक रहते लोगों ने मौका-ए-वारदात पर मूसेवाला हत्याकांड की पूरी कहानी बया की है। सिद्धू मूसेवाला को गोलिया लगने के बाद कार से बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाने वाले शख्स ने बताया कि घटना के समय वह घर पर था और जब गोलियों की अवाज सुनी तो वह घर के बाहर गया। तभी वहां कई लोग इकट्ठा हुए थे, लेकिन उसने हिम्मत दिखाकर मूसेवाला को गाड़ी से बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया।

चश्मदीदों का कहना है कि जिस जगह सिद्धू मूसेवाला की हत्या हुई, वहां एक मोड़ है और उसी वजह से कार की रफ्तार धीरे होती है। इसका फायदा उठाकर हमलावरों ने मूसेवाला की एसयूवी पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। उन्होंने बताया कि बदमाश काफी देर से मूसेवाला की कार का इतंजार कर रहे थे और जब जब शाम करीब साढ़े 5 बजे पहुंची तो उस पर फायरिंग कर दी।

हमलावरों ने किए 30 राउंड गोलियां
पंजाब के डीजीपी वीके भवरा ने घटना की और जानकारियां देते हुए बताया कि सिद्धू मूसेवाला पर करीब 30 राउंड गोलियां चलाई गईं। इसके बाद उनकी एसयूवी कार छलनी हो गई। डीजीपी ने बताया कि वारदात की जगह से गोलियों के 30 खाली खोल बरामद किए गए हैं। उन्होंने अनुमान जताया कि हत्या में कम से कम तीन हथियारों का इस्तेमाल किया गया होगा। डीजीपी वीके भवरा ने बताया कि सिद्धू मूसेवाला जब मानसा जिले के जवाहरके गांव पहुंचे तो दो गाड़ियों ने उनकी एसयूवी को रोक लिया। इसके बाद सामने से सिद्धू मूसेवाला पर अंधाधुंध गोलियां चलाई गई।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd