Thursday, February 29, 2024
ई पेपर
Thursday, February 29, 2024
Home » झूठ व जुमलों की सरकार से मुक्ति चाहता है प्रदेश : कुमारी सैलजा

झूठ व जुमलों की सरकार से मुक्ति चाहता है प्रदेश : कुमारी सैलजा

चंडीगढ़/धरणी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव, पूर्व केंद्रीय मंत्री, हरियाणा कांग्रेस की पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं उत्तराखंड की प्रभारी कुमारी सैलजा ने कहा कि कांग्रेस संदेश यात्रा पहला चरण पूरा हो चुका है। इस दौरान लाखों लोगों से मुलाकात हुई, हर कोई भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार से तंग नजर आया। लोगों ने आगे बढक़र इनके जनविरोधी कार्यों, घोटालों, घपलों, बढ़ते अपराध, महंगाई, बेरोजगारी पर बात की। सरकार से परेशान हो चुकी जनता अब सिर्फ चुनाव के इंतजार में है और गठबंधन की नकारा इस सरकार से मुक्ति चाहती है।
मीडिया को जारी बयान में कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश के लोगों ने कांग्रेस संदेश यात्रा का अपने-अपने लोकसभा क्षेत्र में जोश के साथ स्वागत किया। लोग इस उम्मीद में यात्रा का हिस्सा बने कि उन्हें डबल इंजन सरकार के कुशासन से कांग्रेस अब मुक्ति दिलाएगी। विभिन्न स्थानों पर बातचीत के दौरान लोगों ने साफ-साफ बताया कि प्रदेश सरकार की कथनी और करनी में गहरा अंतर है। जिस तरह के नारे दिए जाते हैं, आचरण उसके एकदम विपरीत है। हरियाणा एक-हरियाणवी एक की आड़ में प्रदेश के लोगों को आपस में लड़ाने के षड्यंत्र समय-समय पर रचने का इतिहास भाजपा ने बनाया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जब भी सरकार पर लोग सवाल उठाने की कोशिश करते हैं, तो उनका ध्यान भटकाने के लिए उन्हें ही आपस में लड़वा दिया जाता है। प्रदेश में समान विकास भी कहीं नजर नहीं आता। गांवों व शहरों के बीच की खाई और अधिक बढ़ी है। गांवों में तो सडको पर पैचवर्क तक नहीं किया जाता। लोगों ने गांवों में बिगड़ी हुई स्वास्थ्य सेवाओं व खराब हो रही सरकारी स्कूलों की हालत की भी विस्तार से जानकारी दी।
कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश में बेरोजगारों की बढ़ती संख्या को लेकर लोग सबसे अधिक चिंतित नजर आए। युवाओं ने उन्हें बिन पर्ची-बिन खर्ची के नारे की हकीकत बताते हुए जानकारी दी कि कितनी भर्तियां अभी कोर्ट में अटकी हुई हैं और 2014 के बाद से कितनी भर्तियों को कोर्ट निरस्त कर चुका है। बाकायदा बताया कि ग्रुप ए की भर्तियों की एवज में बटोरे गए एचपीएससी से करोड़ों रुपये नकद पकड़े जाते हैं, जबकि एचएसएससी में नौकरियां बेचने का भंडाफोड़ होने पर चेयरमैन को कुछ समय के लिए सस्पैंड किया जाता है।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd